अदन की खाड़ी में हूती विद्रोहियों ने मचा रखा है कोहराम, अब 2 जहाजों पर मिसाइल से किया हमला

देश-विदेश

मनामा । यमन के हूती विद्रोहियों की तरफ से अदन की खाड़ी में किए गए मिसाइल हमले में दो जहाजों को नुकसान पहुंचा है। अधिकारियों ने हूती विद्रोहियों की तरफ से किए गए हमले के बारे में जानकारी दी है। अमेरिकी सेना की मध्य कमान ने बताया है कि रविवार देर रात एक जहाज रोधी बैलेस्टिक क्रूज मिसाइल से एंटीगुआ और बारबूडा के झंडे वाले मालवाहक जहाज नॉर्दर्नी को निशाना बनाया गया, जिससे जहाज पर आग लग गई और उस पर सवार सभी लोगों को उतारना पड़ा।
हूती विद्रोहियों ने ली जिम्मेदारी
अमेरिकी सेना ने कहा कि जहाज पर दो बार मिसाइल से हमला किया गया था। ब्रिटिश सेना के समुद्री व्यापार परिचालन केंद्र ने भी अदन के इस इलाके में हमले होने की सूचना देते हुए कहा कि नुकसान पर काबू पाने का प्रयास जारी है। हूती सेना के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल याह्या सारी ने रविवार को एक वीडियो संदेश जारी कर हमले की जिम्मेदारी ली और कहा कि जहाज को मिसाइलों और ड्रोन दोनों से निशाना बनाया गया।
सामने आई ये बात
‘द एसोसिएटेड प्रेस’ की तरफ से किए गए विश्लेषण से पता चला कि नॉर्दनी जहाज रविवार अपराह्न तक अदन की खाड़ी में था। हूती विद्रोहियों ने दूसरे हमले में बैलिस्टिक मिसाइल से अदन की खाड़ी में लाइबेरियाई ध्वज वाले मालवाहक जहाज ताविशी को निशाना बनाया। सारी ने दावा किया कि हमला अरब सागर में किया गया हालांकि इसका कोई सबूत नहीं दिया गया है। आंकड़ों से पता चला कि हमले के समय ताविशी अदन की खाड़ी में था।
मिसाइल हमले को किया गया नाकाम

अमेरिकी सेना की मध्य कमान ने कहा, ”ताविशी को नुकसान हुआ है लेकिन वह आगे बढ़ रहा है।” सेना ने कहा कि हूती विद्रोहियों की ओर से जहाज पर दागी गई दूसरी बैलिस्टिक मिसाइल को एक युद्धपोत ने गिरा दिया। सारी ने एक युद्धपोत पर भी हमले का दावा किया लेकिन इस हमले की पुष्टि नहीं हुई।