दादी को बर्दाश्त नहीं हुई पोती, गोद में लेकर घोंट दिया गला

देश-विदेश

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में मां की कोख से दिव्यांग बालिका का जन्म लेना गुनाह हो गया। जहां जन्म लेते ही मासूम की उसकी दादी ने गला घोटकर हत्या कर दी। मामला मध्य प्रदेश के ग्वालियर का है, आरोपी दादी ने पहले मासूम की हत्या को सामान्य मौत दिखाने की कोशिश की लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने मासूम की हत्या का राज फास कर दिया है।वहीं अब आरोपी दादी पुलिस की गिरफ्त में है।

दरअसल मासूम का कसूर इतना था कि वह दिव्यांग पैदा हुई थी साथ ही दादी को बेटे की चाह थी। इसलिए आरोपी दादी ने मासूम की हत्या करने का षड़यंत्र ही रच डाला। गौरतलब है कि बहोड़ापुर इलाके में रहने वाली गर्भवती महिला ने 23 मार्च को कमलाराजा अस्पताल में बेटी को जन्म दिया लेकिन वह जन्म से ही दिव्यांग निकली। वहीं 27 मार्च की रात महिला की सास अस्पताल में नातिन को साथ लेकर सोई थी। लेकिन सुबह दुधमुंही बच्ची मृत मिली।

खबर लगते ही महिला के मायके वाले भी अस्पताल पहुंच गए। पूछताछ में सास ने मासूम की सामान्य होना बताई। लेकिन मासूम की मां का कहना था कि उसकी बेटी की हत्या की गई है। इसके बाद गुस्से में मायके वालों ने सास की मारपीट भी कर दी थी।

मौके पर पहुंची थाना कंपू थाना पुलिस ने मासूम का पोस्टमार्टम करने की बात कही लेकिन ससुराल वाले पोस्टमार्टम नहीं कराने दे रहे थे। वहीं मासूम की मां पोस्टमार्टम करने के लिए अड़ गई तो पुलिस ने शव पोस्टमार्टम हाउस भिजवाया और मर्ग कायम कर लिया था।

गुरुवार को पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो मासूम की हत्या का राज खुल गया। मासूम बच्ची की मौत सामान्य नहीं थी, बल्कि गला दबाकर उसकी दादी ने ही हत्या की थी। जिसके बाद हत्या की एफआइआर कंपू थाने में दर्ज की गई है। वहीं मासूम बच्ची का पिता भी अपनी मां के पाप को छिपाने के लिए साथ देने में लगा था। मासूम की हत्या के मामले में आरोपी दादी को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है।